ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)
• टैरो राशिफल (13th July, 2018)
• राशिफल (13th July, 2018)
• मोदी सरकार का फैसला, अब पर्यटन स्थलों पर खींचिए मनचाही फोटो
• पीएम मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के नए मुख्यालय भवन का किया उद्घाटन
• पीएम मोदी ने नमो एप के जरिए की स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत, महिला सशक्तिकरण को बताया सरकार की प्रतिबद्धता
• किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• अमित शाह ने की झारखंड में चुनाव तैयारियों की समीक्षा
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (12th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (12th July, 2018)
• टैरो राशिफल (12th July, 2018)
• राशिफल (12th July, 2018)
• हमारी सरकार किसान कल्याण के लिए प्रतिबद्ध- पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने भाजपा नेताओं से मांगा बिजी शेड्यूल में से कुछ वक्‍त

एक के बाद लगातार मिलती जीत और अभी हाल ही में भाजपा के लिए सुखा रहे पूर्वोत्तर में मिली जीत के बाद एक तरफ जहां भाजपा नेताओं के बीच उत्साह का माहौल है। वहीं भारत के प्रधानमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता नरेंद्र मोदी ने पार्टी की संसदीय कमिटी की बैठक में भाजपा नेताओं और सांसदों को संबोधित करते हुए उन्हें जीत की बधाई दी। इसी के साथ प्रधानमंत्री ने कहा कि ये जीत तो मात्र एक शुरुआत है, भाजपा नेताओं को इस जीत से ज्यादा उत्साहित न होते हुए भविष्य की रणनीति के बारे में सोंचना चाहिए।

प्रधानमंत्री ने भाजपा नेताओं और सांसदों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा नेताओं और सांसदों के अपने व्यस्त कार्यक्रम के बीच से कुछ समय निकाल कर दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर मौजूद पार्टी के नए मुख्यालय में कुछ समय बिताना चाहिए, जहां वो पार्टी के अन्य वर्कर्स के मुलाकात करे और उनकी बात सुनें। जिससे पार्टी को मजबूत करने के साथ साथ भविष्य के चुनावों की भी तैयारी की जा सकें। इसी के साथ प्रधानमंत्री ने पार्टी अध्यक्ष श्री अमित शाह की तरफ से भाजपा के सांसदों और उन सभी नेताओं को शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में डिन्नर के लिए आमंत्रित किया, जो मेघालय में संगमा और उनके कैबिनेट के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में मौजूद थे।

loading…

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने संसदीय कमिटी की बैठक भाजपा के सभी नेताओं को भविष्य के चुनावों के लिए तैयार रहने को कहते हुए कुछ समय पार्टी ऑफिस में देने के लिए कहा। दरअसल, आने वाले समय में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, कर्णाटक और पश्चिम बंगाल में चुनाव होने वाले हैं और प्रधानमंत्री का लक्ष्य मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ को बचाने के साथ साथ तमिलनाडु, कर्णाटक और पश्चिम बंगाल को जीतने का भी है।

loading…

Related Articles