ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• मोबाइल फोन से सुलगता बचपन
• प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की विदेश यात्राओं पर पुनः एक बार हंगामा क्यों?
• अहंकार की राजनीति से नैया पार नहीं होती
• लंदन में विजय माल्या का विरोध, भारत बदल रहा है
• कठुआ काण्ड में क्या हुआ न्याय?
• गिरीश कर्नाड का जाना एक सोच का अंत
• अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर कुंठा?
• जाति के झूठे नैरेटिव में फंसा रैगिंग का मुद्दा
• इजरायल ने माना भारत को अपना सबसे अच्छा मित्र
• बंगाल में क्यों हुआ खूनी संघर्ष?
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)
• टैरो राशिफल (13th July, 2018)
• राशिफल (13th July, 2018)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने नोएडा में सैमसंग के नए प्लांट का किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने नोएडा में सैमसंग के नए प्लांट का उद्घाटन किया। यह कंपनी का दुनिया में सबसे बड़ा मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट है। फिलहाल कंपनी भारत में करीब 7 करोड़ स्मार्टफोन बनाती है और इस प्लांट के शुरू हो जाने से इनकी संख्या बढ़कर करीब 12 करोड़ हो जाएगी।

मेट्रो में सफर करते दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

मौका था नोएडा में सैमसंग प्लांट के उद्घाटन का जिसमें शामिल होने के लिए विश्व के दो बड़े नेताओं ने उस सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को चुना जिस पर सभी भारतीय को नाज है। इस दौरान बड़ी संख्या में प्रशंसकों ने हाथ हिलाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अभिवादन किया जिसका पीएम ने भी गर्मजोशी के साथ जवाब दिया। यात्रा के दौरान दोनों नेताओं ने एक नोट का भी आदान प्रदान किया। संभवतः इसमें मेक इन इंडिया और मेक फॉर इंडिया की बात होगी। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति और मून जे इन का स्वागत किया गया। राष्ट्रपति मून और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैमसंग की जिस इकाई का उद्घाटन किया उसमें 1.2 करोड़ फोन का निर्माण प्रति महिने होगा और 70,000 लोगों को रोजगार मिलेगा।

5 हज़ार करोड़ रुपए का ये निवेश ना सिर्फ Samsung के भारत में व्यापारिक रिश्तों को मजबूत बनाएगा, बल्कि भारत और कोरिया के संबंधों के लिए भी अहम सिद्ध होगा।

नोएडा की सैमसंग इकाई विश्व की सबसे बड़ी मोबाइल निर्माता इकाई हो गई है। सैमसंग ने देश में इतना बड़ा निवेश 40 करोड़ स्मार्ट फोन उपभोक्ताओं को देखते हुए किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कहा कि देश में डिजिटल क्रांति ने देश में अहम स्थान बनाया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बहुत कम दर पर इंटरनेट डेटा उपलब्ध है, देश की एक लाख से अधिक ग्राम पंचायतों तक फाइबर नेटवर्क पहुंच चुका है। ये सारी बातें, देश में हो रही डिजिटल क्रांति का संकेत हैं। उन्होंने कहा कि GeM यानि Government e Market के जरिए सरकार अब सीधे उत्पादकों से सामान की खरीदारी कर रही है। इससे छोटे और लघु उद्यमों को भी फायदा हुआ है तो सरकारी खरीदारी में पार्दर्शिता बढ़ी है। बिजली – पानी का बिल भरना हो, स्कूल-कॉलेज में एडमिशन हो, PF हो या पेंशन, लगभग हर सुविधा ऑनलाइन मिल रही है. देशभर में फैले लगभग 3 लाख कॉमन सर्विस सेंटर गांव वालों की सेवा में काम कर रहे हैं।

जब बारी दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन की आई तो उन्होंने भारत-दक्षिण कोरिया के बीच दशकों के संबंधों का उल्लेख करते हुए देश की डिजिटल क्रांति की सराहना की। उन्होंने कहा कि कोरिया और भारत एक साथ मिलकर तरक्की के रास्ते खोल सकते हैं।

सैमसंग कंपनी नोएडा में अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट का विस्तार कर रही है। इसके लिए कंपनी ने 4915 करोड़ का निवेश किया है। सैमसंग के इस निवेश से मेक इन इंडिया को भी गति मिलेगी। इस यूनिट के जरिए सैमसंग मोबाइल उत्पादन को दोगुना करने पर विचार कर रहा है। अभी सैमसंग देश में लगभग 7 करोड़ स्मार्टफोन बनाता है जो 2020 तक 12 करोड़ हो सकता है।

Related Articles