ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• पाकिस्तानी क्रिकेट प्रेमी अब करेंगे भारत की जीत की दुआ
• हज़ारों वर्षों से अस्तित्व में है हिन्दू धर्म, फिर मिला ये प्रमाण
• मंगरू पाहन की मृत्यु लिंचिंग में गिनी जाएगी क्या?
• दो मामलों में आकाश विजयवर्गीय को मिली ज़मानत, एक मामला लंबित
• योगी सरकार ने किया इन 17 जातियों को अनुसूचित सूची में शामिल, सपा-बसपा सकते में
• सुबह 9 बजे दफ्तर पहुंचने के योगी के आदेश से नौकरशाही परेशान
• राजधानी, शताब्दी जैसी ट्रेनों के निजीकरण की कोई योजना नहीं – पीयूष गोयल
• नेहरू और कांग्रेस की वजह से है कश्मीर समस्या, पटेल को दिया धोखा- अमित शाह
• हुआ ऐसे तार-तार जय भीम और जय मीम का झूठा गठजोड़!
• ब्राह्मणों को गाली! अनुभव सिन्हा हम जैसे लोग आपको बड़ा बनाते हैं!
• लिंचिंग से नहीं दिल का दौरा पड़ने से हुई थी तबरेज की मृत्यु
• संजय गांधी की सनक की वजह से आपातकाल में हुआ ऐसा
• तेज प्रताप आज नया मंच ‘तेज सेना’ करेंगे लॉन्च, भाजपा ने की प्रशंसा
• अमित शाह ने अमरनाथ यात्रा के दौरान यात्रियों के लिए सर्वोत्तम संभव व्यवस्था करने का भरोसा दिलाया
• झूठी हैं लिंचिंग की ये घटनाएं, रहें सावधान

जब हौसला बना लिया ऊँची उड़ान का, फिर देखना फिजूल है कद आसमान का

सही ही कहा है ऊपर उड़ने वालों को जमीन नहीं दिखती। वह ऊपर उड़ते रहते हैं और जनता से दूर हो जाते हैं, फिर वह नेता हो या पक्षी! ऐसा ही कुछ संसद में विपक्ष के नेता के साथ हुआ जब उन्होंने नरेंद्र मोदी को संसद में कोसा। मगर वह यह भूल गए कि नरेंद्र मोदी जब उत्तर देते हैं तो खुलकर देते हैं। उन्हें उम्मीद नहीं रही होगी कि ऐसा कुछ होगा, मगर प्रधानमंत्री को गंदी नाली कहने वाले कांग्रेसियों को आज जमकर प्रधानमंत्री मोदी ने सच्चाई सुनाई!

आज आपातकाल के 44 वर्ष पूरे होने पर प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस  को आपातकाल का अर्थ याद दिलाया और कहा कि कुछ लोग 25 जून का दिन याद ही नहीं रखना चाहते हैं। उन्होंने अधीर चौधरी की इस बात का भी जबाव दिया कि जब भाजपा भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सत्ता में आई थी तो ऐसे में सोनिया और राहुल गांधी बाहर क्यों हैं? प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ार्इ जारी रहेगी। हम बदले के भावना से काम नहीं करते हैं।

इस दौरान उन्होंने कहा हम कानून से चलने वाले लोग हैं और किसी को जमानत मिली है तो वह इसका आनंद ले, लेकिन भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी, हमें गलत रास्ते पर जाने की जरूरत नहीं है। 

तीन तलाक के मामले में कांग्रेस को आईना दिखाते हुए कहा कि कांग्रेस को मुसलमानों की फ़िक्र नहीं है। यदि होती तो वह न  इतने वर्ष पहले शाहबानो के मामले में यह करते और न ही पिछली लोकसभा में तीन तलाक के मामले पर धोखा करती। उन्होंने कहा कि उस समय के कांग्रेस के मंत्री ने कहा था कि मुसलमानों के उत्‍थान की जिम्‍मेदारी कांग्रेस की नहीं है, अगर वह पिछड़े होकर रहना चाहते हैं तो रहें! प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तर देते हुए कहा कि शाहबानों के केस में ऊंचाई वाले लोगों ने नीचे नहीं देखा। तीन तलाक के मामले में कांग्रेस को गलती सुधारने का मौका है।

मगर ऐसा लगता नहीं है कि कांग्रेस अपनी गलती सुधारने के मूड में है, वह कल भी प्रधानमंत्री मोदी को गाली दे रही थी और आज भी!

आज भी उन्हें संसद में सेल्समैन आदि कहा जा रहा है, जबकि जनता ऐसी नकारात्मक राजनीति का जबाव दे चुकी है। इसी बात पर प्रधानमंत्री ने आज संसद में कहा कि जनता ने गरीबों के लिए समर्पित सरकार के लिए वोट दिया है।

उन्होंने कहा कि हम लकीर छोटी करने में अपना समय बर्बाद नहीं करते। उन्होंने एक शेर भी सुनाया। “जब हौसला बना लिया ऊँची उड़ान का, फिर देखना फिजूल है कद आसमान का “

Related Articles