ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• मोदी सरकार का फैसला, अब पर्यटन स्थलों पर खींचिए मनचाही फोटो
• पीएम मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के नए मुख्यालय भवन का किया उद्घाटन
• पीएम मोदी ने नमो एप के जरिए की स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत, महिला सशक्तिकरण को बताया सरकार की प्रतिबद्धता
• किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• अमित शाह ने की झारखंड में चुनाव तैयारियों की समीक्षा
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (12th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (12th July, 2018)
• टैरो राशिफल (12th July, 2018)
• राशिफल (12th July, 2018)
• हमारी सरकार किसान कल्याण के लिए प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• बारिश के बाद भूस्खलन से हुई उत्तराखंड में 16 लोगों की मौत
• मुंबई में बारिश रूकने से राहत, लोकल रेल सेवाएं फिर हुई शुरू
• बीजू जनता दल और वाईएसआर कांग्रेस ने किया एक देश एक चुनाव का समर्थन
• जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, दो आतंकवादी हुए ढेर
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (11th July, 2018)

किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुना करने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहरायी, पंजाब के मलोट में किसान कल्याण रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कांग्रेस पर किसानों से झूठे वादे करने का आरोप लगाया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों के मसले पर कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला। पंजाब के मलोट में किसान कल्याण रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा किसानों के साथ धोखा किया है। कांग्रेस के लिए किसानों की नहीं बल्कि एक परिवार की चिंता सबसे अहम रही है। खरीफ की फसल के न्यूतम समर्थन मूल्य में ऐतिहासिक बढोतरी के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहली बार किसानों के बीच पहुंचे थे।

मलोट में पंजाब के साथ ही हरियाणा और राजस्थान के किसानों के बीच प्रधानमंत्री। न्यूनतम समर्थन मूल्य में ऐतिहासिक बढ़ोत्तरी के बाद प्रधानमंत्री पंजाब के मालवा इलाक़े मे पहुंचे जो अपनी उपज और ख़ासकर हरित क्रांति के लिए जाना जाता है। किसानों का कुंभ करार देते हुए प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और उन्होने देश के किसानों से धोखा करने का आरोप लगाया।

प्रधानमंत्री ने केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता किसानों के प्रति जताई। साथ ही उन्होने कहा कि केंद्र की मौजूदा सरकार लगातार वही क़दम उठा रही है जिससे किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी हो जाए। उन्होने कहा कि बीज़ से बाज़ार तक बात चाहे 15 करोड़ सॉयल हेल्थ कार्ड की हो या कालाबाज़ारी रोकने के लिए नीम कोटिंग यूरिया की उपलब्धता की, प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के लिए फूड चेन को दुरूस्त करने की, बीमा हो या फिर पर्यावरण के साथ ही धरती की उपज कम करने वाले पराली जलाए जाने से किसानों को छुटकारा दिलाने की, केंद्र सरकार लगातार किसान को समृद्ध करने के क़दम उठा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने न्यूनतम समर्थन मूल्य को तर्कसंगत बताते हुए कहा कि इसमें पट्टेदार किसानों के हितों का भी ख़्याल रखा गया है। अब न्यूनतम मूल्य में उस मज़दूरी को भी जगह दी गई है जो कृषि कार्यों में लगती है। इसके अलावा उपयोग होने वाले पशुओं और मशीनों के ख़र्च को भी जोड़ा गया है। साथ ही इसमें बीज से लेकर खाद और सिंचाई पर होने वाले खर्च को भी जगह दी गई है।

अकाली दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री पंजाब प्रकाश सिंह बादल ने एमएसपी बढ़ाने के फ़ैसले का स्वागत किया। उन्होने कहा कि इस फ़ैसले से किसानों को बहुत फ़ायदा पहुंचेगा। प्रधानमंत्री किसानों को दूसरी हरित क्रांति के लिए आह्वान किया। उन्होने कहा कि पर्यावरण के हित में एक तरफ पराली जलाना बंद हो तो वहीं स्वास्थ्य के लिहाज से और उत्पादन लागत कम करने के मक़सद से भी किसान ज़्यादा से ज़्यादा जैविक खेती को अपनाऐं।

Related Articles