ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• RSS को लेकर कमलनाथ ने दिया ये विवादित बयान, पढ़ें
• बैंकों, MSME को राहत दे सकती है आरबीआई
• दामाद ने इस बीजेपी नेता के खिलाफ नामांकन भर अपना परचा लिया वापस
• राफेल डील घोटाले की जांच से बचने को पीएम ने CBI चीफ को हटाया- राहुल गांधी
• मंदिर और हिंदुत्व को मुद्दा बनाकर 2019 में चुनाव लड़ेगी बीजेपी
• नरेंद्र मोदी ने जीएसएटी-29 उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर इसरो के वैज्ञानिकों को दी बधाई
• खड़ी गाड़ियों के टायर चुरा लेते हैं ये लोग, ऐसे रहें सावधान
• भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला 2018 शुरू हुआ
• राजस्थान बीजेपी ने दूसरी लिस्ट में 3 मंत्रियों के साथ इन 15 विधायकों के टिकट काटे
• आज से शुरू हुई रामायण एक्सप्रेस, जानें वानर सेना ने किया क्या कमाल
• कैश निकासी की लिमिट घटाने के बाद अब SBI ने किया ये बड़ा ऐलान, जानें
• श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू को उनकी जयंती पर दी श्रद्धांजलि
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)

दामाद ने इस बीजेपी नेता के खिलाफ नामांकन भर अपना परचा लिया वापस

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश की उम्मीदवारी को चुनौती देते हुए आसन्न विधानसभा चुनाव में मैदान में उतरे पार्टी के बागी नेता ललित पोरवाल ने नाटकीय घटनाक्रम में बुधवार को अपना नाम वापस ले लिया। बीजेपी के वरिष्ठ नेता पोरवाल (59) ने उसी इंदौर-तीन विधानसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में पर्चा भरा था, जहां से विजयवर्गीय के 34 वर्षीय पुत्र पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के रूप में अपने जीवन का पहला चुनाव लड़ने जा रहे हैं।

पोरवाल की शादी में विजयवर्गीय ने निभाई थी कन्यादान की रस्म

पोरवाल के पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक, उनकी पत्नी सपना बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव की भतीजी हैं। पोरवाल की शादी में विजयवर्गीय ने ही कन्यादान की रस्म निभायी थी। पोरवाल रिश्ते में विजयवर्गीय के दामाद लगते हैं। नाम वापसी के आखिरी दिन ऐन मौके पर चुनावी रण छोड़ने के बाद पोरवाल ने कहा, “मुझ पर बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं और अपने रिश्तेदारों का काफी दबाव था। आकाश के खिलाफ चुनाव लड़कर मैं कांग्रेस को फायदा नहीं पहुंचाना चाहता था। इसलिये मैंने बतौर उम्मीदवार अपना नाम वापस लेने का फैसला किया।”

अब कांग्रेस प्रत्याशी से होगा विजयवर्गीय के बेटे का सीधा मुकाबला

इंदौर-तीन विधानसभा सीट से वैसे तो अब आकाश समेत 10 उम्मीदवार चुनावी मैदान में बचे हैं। लेकिन, बीजेपी प्रत्याशी का मुख्य मुकाबला कांग्रेस उम्मीदवार अश्विन जोशी (58) से है। जोशी इसी सीट से पूर्व में विधायक रह चुके हैं। इस बीच, कांग्रेस को भी बुधवार को बड़ी राहत मिली जब इंदौर-एक सीट से उसके दो बागी नेताओं- प्रीति अग्निहोत्री और कमलेश खंडेलवाल ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपनी उम्मीदवारी वापस ले ली। अब इस सीट पर मुख्य भिड़ंत बीजेपी के निवर्तमान विधायक सुदर्शन गुप्ता और कांग्रेस उम्मीदवार संजय शुक्ला के बीच है।

सूत्रों ने बताया कि बीजेपी और कांग्रेस के बागी उम्मीदवारों को नाम वापसी को मनाने के लिये दोनों ही दलों के वरिष्ठ नेताओं को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

Related Articles