ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• RSS को लेकर कमलनाथ ने दिया ये विवादित बयान, पढ़ें
• बैंकों, MSME को राहत दे सकती है आरबीआई
• राफेल डील घोटाले की जांच से बचने को पीएम ने CBI चीफ को हटाया- राहुल गांधी
• मंदिर और हिंदुत्व को मुद्दा बनाकर 2019 में चुनाव लड़ेगी बीजेपी
• आज से शुरू हुई रामायण एक्सप्रेस, जानें वानर सेना ने किया क्या कमाल
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)
• टैरो राशिफल (13th July, 2018)
• राशिफल (13th July, 2018)
• मोदी सरकार का फैसला, अब पर्यटन स्थलों पर खींचिए मनचाही फोटो
• पीएम मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के नए मुख्यालय भवन का किया उद्घाटन
• पीएम मोदी ने नमो एप के जरिए की स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत, महिला सशक्तिकरण को बताया सरकार की प्रतिबद्धता
• किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• अमित शाह ने की झारखंड में चुनाव तैयारियों की समीक्षा

मंदिर और हिंदुत्व को मुद्दा बनाकर 2019 में चुनाव लड़ेगी बीजेपी

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) की रणनीति तय हो गई है। चुनाव के केंद्र में अयोध्‍या में राम जन्‍मभूमि पर मंदिर निर्माण और हिंदुत्‍व का मुद्दा होगा। वाराणसी के कोइराजपुर स्थित संत अतुलानंद स्‍कूल में चल रहे प्रचारक वर्ग के कार्यक्रम के चौथे दिन बुधवार को भी आरएसएस चीफ मोहन भागवत की ‘पाठशाला’ में पूरे दिन क्‍लास चली। इसमें शामिल हुए देशभर के 250 चुनिंदा प्रचारकों के साथ भागवत ने तमाम बातें साझा कीं।

सूत्रों के मुताबिक, संघ प्रमुख ने संकेतों में साफ किया कि लोकसभा चुनाव से पहले राम मंदिर निर्माण और हिंदुत्‍व के मुद्दे को नई धार दी जाएगी। हर शहर और गांव-गांव तक फिर राम मंदिर निर्माण की ‘धुन’ सुनाई पड़ने के लिए हर स्‍तर के प्रचारक व स्‍वयंसेवक जुटेंगे।

गांव-गाय का पाठ पढ़ाया

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा, ‘आरएसएस के कार्यकर्ताओं को प्रामाणिकता के साथ समाज में काम करने की जरूरत है। संघ की पहचान समाज में अनुशासन से होती है और सभी को इसका पालन करना चाहिए।’ सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी ने देश के विकास और अर्थव्‍यवस्‍था को नए सिरे से देखने की जरूरत बताई।

उन्होंने कहा, ‘गांव से ही देश का विकास होगा। गांव संस्‍कृति और गाय अर्थव्‍यवस्‍था का केंद्र होनी चाहिए।’ सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने देसी नस्‍ल की गाय के संरक्षण के लिए संघ कार्यकर्ताओं को पहल करने पर जोर दिया।

Related Articles