ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• कांग्रेस ने PM मोदी की ‘ऐतिहासिक योजना’ का वीडियो शेयर कर उड़ाया मजाक़, कहा- ‘आपकी नियत’ खराब है
• कांग्रेस की सबसे ‘कमजोर नस’ को आज दबाएगी BJP, देशभर में करेगी विरोध-प्रदर्शन
• अमित शाह को आया गुस्सा, जानें किसे सुनाई खरी-खरी
• ऊंटनी का दूध पीने से होने वाले फायदे जानकर चौंक जाएंगे आप
• ओवैसी के भड़काऊ बोल, ‘मुस्लिमों जिंदा रहना चाहते हो तो अपने उम्मीदवार को वोट दो’
• 2019 चुनाव में ईवीएम पर प्रतिबंध लगाए जाने पर भारत में होगा गुंडाराज, जानिये कैसे
• अनकही कहानी- ऐसे बिताए प्रधानमंत्री मोदी ने आपातकाल के दौरान अपने दिन!
• दूल्हे ने ‘दहेज’ में मांगे 1000 पौधे और बारातियों को मिला अनोखा गिफ्ट
• लगातार 27वें दिन और सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, जानें आज का भाव
• शिखर धवन ने विराट कोहली और धोनी को बताया अपना राम लखन, गया ये गाना
• मोदी सरकार का ऑफर- 25 साल तक मिलेगी मुफ्त बिजली, बस करना होगा ये एक काम
• सपना चौधरी के कांग्रेस में शामिल होने पर तिलमिलाए BJP सांसद, दिया विवादित बयान
• भगवान शिव की पूजा करते समय अपनाएं यह विधि, शीघ्र होगी हर ईच्छा पूरी
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (25th June, 2018)
• आर्थिक राशिफल (25th June, 2018)

आज भी अधिकारियों को दुरुस्त करने की हैसियत रखते हैं मुरली मनोहर जोशी, देखें वीडियो

उत्तर प्रदेश के कानपुर में भाजपा के वरिष्ठ नेता और सांसद मुरली मनोहर जोशी एक अधिकारी से उस वक्त नाराज हो गए जब उन्हें फीता काटने के लिए कैंची नहीं मिली। समाचार एजेंसी एएनआई ने एक वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें मुरली मनोहर जोशी नराजगी जाहिर करते हुए नजर आ रहे हैं। 1.9 मिनट के वीडियो में मुरली मनोहर जोशी कैंची न मिलने पर हाथ से ही पोल से बंधे फीते को खोलते हुए दिखते हैं और जब कैंची लाई जाती है तो वह अधिकारी पर भड़कते हुए दिखाई देते हैं। वह वीडियो में अधिकारी को खरी-खोटी सुनाते हुए दिखाई देते हैं। वह कानपुर की कलेक्ट्रेट में सौर ऊर्जा पैनल का उद्घाटन करने पहुंचे थे। वह जब मौके पर पहुंचे तो फीता काटने के लिए कैंची नहीं थी। इस पर उनसे रहा नहीं गया और नाराजगी में उन्होंने हाथ से ही फीता खोल दिया। बता दें कि अटल ज्योति योजना के तहत सांसद निधि से कानपुर में सौर ऊर्जा वाली लाइटें लगाई जानी है।

अटल ज्योति योजना के ही तहत गुरुवार (22 फरवरी) को कलेक्ट्रेट में उद्घाटन का कार्यक्रम रखा गया था, जिसमें मुरली मनोहर जोशी को फीता काटना था। कैंची न होने पर मुरली मनोहर जोशी ने जब हाथ से ही फीता निकाल दिया तो मौके पर मौजूद अधिकारी ने फिर से फीता लगाकर उन्हें मनाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माने। वीडियो में मुरली मनोहर जोशी कहते हुए दिखते हैं- ”उद्घाटन हो गया” और वह वहां से चले जाते हैं।

loading…

घटना के बाद डीएम सुरेंद्र सिंह ने मीडिया को बताया कि अटल ज्योति योजना के तहत सौर ऊर्जा की लाइटें लगाई जानी हैं, इसी के तहत उद्घाटन करने के लिए सांसद जी कलेंक्ट्रेट आए थे। बता दें कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वाराणसी से चुनाव लड़ाने के कारण बीजेपी ने मुरली मनोहर जोशी को कानपुर से टिकट दिया था। मुरली मनोहर जोशी कानपुर से ही सांसद हैं। पिछले दिनों उन पर पत्रकारों पर भड़कने के भी आरोप लगे थे।

loading…

Related Articles