ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)
• टैरो राशिफल (13th July, 2018)
• राशिफल (13th July, 2018)
• मोदी सरकार का फैसला, अब पर्यटन स्थलों पर खींचिए मनचाही फोटो
• पीएम मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के नए मुख्यालय भवन का किया उद्घाटन
• पीएम मोदी ने नमो एप के जरिए की स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत, महिला सशक्तिकरण को बताया सरकार की प्रतिबद्धता
• किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• अमित शाह ने की झारखंड में चुनाव तैयारियों की समीक्षा
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (12th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (12th July, 2018)
• टैरो राशिफल (12th July, 2018)
• राशिफल (12th July, 2018)
• हमारी सरकार किसान कल्याण के लिए प्रतिबद्ध- पीएम मोदी

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा हालात का लिया जायजा, साथ में थे अजीत डोभाल

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर दौरे के दूसरे दिन गुरुवार को कहा कि व्यवस्था में जवाबदेही, पारदर्शिता और सुशासन लाने के लिए केंद्र सरकार हर मुमकिन कदम उठाने को लेकर प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि सुशासन और विकास के जरिए  केंद्र सरकार राज्य के लोगों में नई आकांक्षाएं और उम्मीदें जगाने के लिए प्रयासरत है।

राज्यपाल शासन लगने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर दौरे पर पहुंचे गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को राज्य के सुरक्षा हालात का जायजा लिया। गृहमंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक में राज्य की विभिन्न विकास परियोजनाओं, सुरक्षा व कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। बैठक में राज्यपाल एनएन वोहरा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के साथ ही प्रशासन एवं पुलिस के शीर्ष अधिकारी मौजूद रहे। सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राज्य में शांति एवं स्थिरता एक ईमानदार, प्रभावी और कुशल प्रशासन से ही लाई जा सकती है। गृहमंत्री की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, ”एक विकसित एवं समृद्ध जम्मू-कश्मीर का सपना तब साकार होगा जब राज्य में शांति एवं सामान्य स्थिति होगी। राज्य में एक ईमानदार, प्रभावी एवं कुशल प्रशासन के जरिए शांति, स्थिरता लाना हमारा दृढ़ संकल्प है।”

राज्य के लिए आगे के रास्ते की चर्चा करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि विकास और सुशासन जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए सपना रहा है और केंद्र सरकार व्यवस्था में जवाबदेही और पारदर्शिता लाने के सभी संभव उपाय करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा सुशासन और विकास पर नवीनीकृत जोर के साथ केंद्र राज्य के लोगों के बीच नई आकांक्षाओं और आशा का संचार करना चाहता है। समस्याओं का हल लोगों के सशक्तिकरण और स्थानीय स्वशासन वाली संस्थाओं को मजबूती प्रदान करने में निहित है।

गौरतलब है कि हाल ही में पीएम मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि सुशासन, विकास और जवाबदेही के जरिए ही राज्य में शांति व्यवस्था बहाल हो सकती है।

बुधवार शाम श्रीनगर पहुंचे राजनाथ सिंह ने राज्यपाल से मुलाकात कर सुरक्षा हालात व अमरनाथ यात्रा का जायजा लिया था। इस दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य की आंतरिक और बाहरी सुरक्षा के साथ-साथ राज्यपाल शासन लागू होने के बाद राज्य में पैदा हालात, स्थानीय युवाओं को सकारात्मक कार्यों में प्रोत्साहित करने और विकास योजनाओं से जुड़े कई मुददों पर चर्चा की थी। गृहमंत्री को अपने इस दौरे में गुरुवार को पवित्र श्री अमरनाथ गुफा का दर्शन भी करना था लेकिन खराब मौसम के चलते वो पवित्र गुफा के दर्शन नहीं कर पाए।

गौरतलब है कि पिछले महीने 19 जून को बीजेपी ने महबूबा मुफ्ती सरकार से समर्थन वापस ले लिया था, जिसके बाद सरकार गिर गई थी। केंद्र की सिफारिश पर राष्ट्रपति ने राज्य में राज्यपाल शासन लागू कर दिया था। भाजपा ने समर्थन वापसी के लिए व्यापक राष्ट्रीय हित और राज्य में बढ़े आतंकवाद व अलगावाद को जिम्मेदार ठहराया था। ऐसे में गृहमंत्री का ये दौरा    आतंकवाद के खिलाफ चलाए जा रहे सुरक्षा अभियानों और विकास के कामों में भी तेजी लाने में मददगार होगा।

Related Articles