ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)
• टैरो राशिफल (13th July, 2018)
• राशिफल (13th July, 2018)
• मोदी सरकार का फैसला, अब पर्यटन स्थलों पर खींचिए मनचाही फोटो
• पीएम मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के नए मुख्यालय भवन का किया उद्घाटन
• पीएम मोदी ने नमो एप के जरिए की स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत, महिला सशक्तिकरण को बताया सरकार की प्रतिबद्धता
• किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• अमित शाह ने की झारखंड में चुनाव तैयारियों की समीक्षा
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (12th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (12th July, 2018)
• टैरो राशिफल (12th July, 2018)
• राशिफल (12th July, 2018)
• हमारी सरकार किसान कल्याण के लिए प्रतिबद्ध- पीएम मोदी

भारत आने को तैयार है दाऊद इब्राहिम लेकिन उसने रखी कुछ शर्तें

मशहूर आपराधिक वकील श्याम केसवानी ने मंगलवार को अपने एक बयान में कहा है कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर भारत वापस लौटना चाहता है। दाऊद ने इसके लिए कुछ शर्तें रखी हैं, लेकिन भारत सरकार को ये शर्तें मंजूर नहीं हैं। ठाणे कोर्ट के बाहर मीडिया से बातचीत के दौरान केसवानी ने कहा कि दाऊद इब्राहिम की मांग है कि गिरफ्तारी के बाद उसे उच्च सुरक्षा वाली मुंबई की आर्थर रोड सेंट्रल जेल में ही रखा जाना चाहिए। बता दें, दाऊद इब्राहिम का भाई इब्राहिम कासकर जबरन वसूली के एक केस में इन दिनों जेल में बंद हैं। केसवानी इब्राहिम के वकील हैं और उसी के केस के सिलसिले में ठाणे कोर्ट आए थे।केसवानी ने ये भी कहा  उसने (दाऊद) ने कुछ साल पहले (पूर्व केन्द्रीय मंत्री और मशहूर वकील) राम जेठमलानी के द्वारा भी अपनी यह इच्छा सरकार को बतायी थी  लेकिन भारत सरकार ने वापसी के लिए उसकी किसी भी मांग को मानने से इनकार कर दिया।” उल्लेखनीय है कि आर्थर रोड सेंट्रल जेल वही जेल है

loading…

जिसमें पाकिस्तानी आतंकवादी और मुंबई हमलों में जिंदा पकड़ा गया आतंकी अजमल कसाब 4 सालों तक बंद था। उसके बाद इसी जेल में उसे फांसी दे दी गई थी। गौरतलब है कि वकील श्याम केसवानी का बयान मनसे चीफ राज ठाकरे के उस बयान के 6 माह बाद आया है, जिसमें राज ठाकरे ने कहा था कि दाऊद इब्राहिम भारत वापस लौटना चाहता है, लेकिन इसके लिए वह मोदी सरकार के साथ ‘सेटलमेंट’ करना चाहता है। राज ठाकरे ने कहा था कि दाऊद इब्राहिम काफी बीमार है और अपनी आखिरी सांस भारत में लेना चाहता है।

वहीं, दूसरी तरफ जमीन हथियाने और जबरन वसूली के मामले में इब्राहिम कासकर को ठाणे की विशेष अदालत ने शुक्रवार तक के लिए हिरासत में भेज दिया है। इब्राहिम कासकर पर आरोप है कि उसने एक बिल्डर द्वारा 38 एकड़ जमीन खरीद के मामले में 3 करोड़ रुपए की जबरन वसूली की थी। इस मामले में दाऊद इब्राहिम और उसके भाइयों अनीस और इकबाल को भी आरोपी बनाया गया है। मामले के अन्य 2 आरोपी भंवर कोठार और भारत जैन फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।
कोर्ट में थाने पुलिस ने इकबाल कासकर की रिमांड बढ़ाने की मांग की थी। पुलिस ने कोर्ट से कहा कि उसके खिलाफ फिरौती के कुछ मामलों में जरूरी पूछताछ करनी है इसलिए उसके रिमांड की अवधि बढ़ा दी जाए। कोर्ट ने पुलिस के दर्ख्वास्त को मानते हुए इकबाल को 9 मार्च तक की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

loading…

Related Articles