ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (13th July, 2018)
• आर्थिक राशिफल (13th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (13th July, 2018)
• टैरो राशिफल (13th July, 2018)
• राशिफल (13th July, 2018)
• मोदी सरकार का फैसला, अब पर्यटन स्थलों पर खींचिए मनचाही फोटो
• पीएम मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के नए मुख्यालय भवन का किया उद्घाटन
• पीएम मोदी ने नमो एप के जरिए की स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत, महिला सशक्तिकरण को बताया सरकार की प्रतिबद्धता
• किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- पीएम मोदी
• अमित शाह ने की झारखंड में चुनाव तैयारियों की समीक्षा
• जन्मदिन की वार्षिक भविष्यवाणी (12th July, 2018)
• अंकों से जानें, कैसा होगा आपका दिन (12th July, 2018)
• टैरो राशिफल (12th July, 2018)
• राशिफल (12th July, 2018)
• हमारी सरकार किसान कल्याण के लिए प्रतिबद्ध- पीएम मोदी

AAP विधायक ने PM मोदी पर किया विवादित ट्वीट, कहा- अपने नेताओं को शपथ दिलाएंगे मोदी “न रेप करूंगा, न करने दूंगा’

दिल्ली के बुराड़ी से आम आदमी पार्टी के विधायक संजीव झा ने रविवार (15 मार्च) सुबह साढ़े नौ बजे रेप के खिलाफ आवाज उठाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित ट्वीट किया, जिस पर ट्विटर यूजर उन्हीं की खिंचाई करने लगे। संजीव झा ने ट्वीट में लिखा- ”मोदी जी कहते थे- “न खाऊंगा, न खाने दूंगा।” अब क्या मोदी जी अपने नेताओं को शपथ दिलाएंगे- “न रेप करूंगा, न करने दूंगा।” हिंदुस्तान को रेपिस्तान बनने से रोकिए प्रधानमंत्री जी!

विधायक के ट्वीट पर आदित्य मिश्रा नाम के यूजर ने कमेंट में लिखा- ”थोड़ा सा तो शर्म कर लो, एक महान व्यकि ने अपना सारा जीवन दूसरो की सेवा में लगा दिया, आप उसको बलात्कारी बोल रहे हो, मोदी जी ने किसका बलात्कार किया है बताया जाये? और जिसने रेप किया उसकी उसको सजा मिल गयी, न्याय मिला ना, तुम लोग देश को बेच खा रहे हो, खुद को तो देखो।

loading…

एक और यूजर ने लिखा- ”दुःख मुझे भी हैं, मोदी जी को भी हैं , हर उस प्राणी को हैं, जीव को हैं, जिसमें इंसानी दिल धड़कता हैं। मासूमों के साथ हुई हैवानियत को बर्दाश्त नहीं करेंगे, ऐसा खुले मंच से कहने की हिम्मत भी नरेंद्र मोदी जी रखते हैं। तुम लोग किस मुंह से उन पर आरोप लगाते हो? क्या कहना चाहते हों? झुठों।

आपको बता दें कि कठुआ और उन्नाव गैंगरेप मामलों को लेकर देश भर में उबाल है। विपक्षी दल लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर चुप्पी साधे जाने को लेकर निशाना साध रहे थे। शुक्रवार को नई दिल्ली में डॉक्टर अंबेडकर नेशनल मेमोरियल में बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने रेप के मामलों पर चुप्पी तोड़ी। प्रधानमंत्री ने बिना किसी का नाम लिए कहा था- “पिछले दो दिनों से जो घटनाएं चर्चा में हैं वो किसी भी सभ्य समाज में शोभा नहीं देती हैं, ये शर्मनाक है। एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इसके लिए शर्मसार हैं। देश के किसी भी राज्य में, किसी भी क्षेत्र में होने वाली ऐसी वारदातें, हमारी मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देती हैं। पर मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि कोई अपराधी नहीं बचेगा, न्याय होगा और पूरा होगा। हमारी बेटियों को न्याय मिलकर रहेगा। हमारे समाज की इस आंतरिक बुराई को ख़त्म करने का काम हम सबको मिलकर करना होगा।

रेप के घटनाओं से आंदोलित पूर्व नौकरशाहों ने भी रविवार (15 अप्रैल) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला खत लिखा। 49 सेवानिवृत्त सिविल सेवा अधिकारियों के समूह ने देश के मौजूदा हालातों को अंधकारमय दौर बताया और इसके लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया। खुले खत में नौकरशाहों ने पीएम को लिखा कि यह आजादी के बाद सबसे अंधकारमय वक्त है।

loading…

Related Articles